दृष्टांत संग्रह मूर्ख धनवान बन जाता है, तब अपनों से भी मेल-मिलाप छोड़ देता है

दृष्टांत संग्रह

*रोचक कथा*

एक चूहे ने हीरा (diamond) निगल लिया,
तो उस हीरे के मालिक ने उस चूहे को मारने के लिये एक शिकारी को ठेका दिया।
जब शिकारी चूहे को मारने पहुँचा तो वहाँ हजारों चूहे झूँड बनाकर एक दूजे पर चढे हुए थे,
मगर एक चूहा उन सबसे अलग बेठा था।
शिकारी ने सीधा उसी चूहे को पकड़ा,
जिसने डायमन्ड निगला था। अचम्भित डायमन्ड के मालिक ने शिकारी से पूछा, हजारों चूहों में से इसी चूहे ने डायमन्ड निगला, यह तुम्हें केसे पता लगा ? शिकारी ने जवाब दिया कि बहुत ही आसान था, जब मूर्ख धनवान बन जाता है, तब अपनों से भी मेल-मिलाप छोड़ देता है।🌺🙏

कीर्तनकार, प्रवचनकार, भागवतकार, समाज प्रबोधनकार, एंड्रॉयड डेव्हलपर, ईबुक मेकर,

Leave a Reply

*

seventeen − 9 =